Home / National Testing Agency / नीट 2019 की ताजा खबरें – NTA NEET 2019 News in Hindi

नीट 2019 की ताजा खबरें – NTA NEET 2019 News in Hindi

NEET 2019 News: NTA नीट 2019 की ताजा खबरें राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा 2019 का ऑनलाइन आवेदन पत्र नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के द्वारा 1 नवंबर 2018 से स्वीकार किया जाएगा| इसके लिए सभी छात्रों को नीट की ऑफिशियल वेबसाइट www.ntaneet.nic.in पर सूचना बुलेटिन डाउनलोड कर नीट परीक्षा का कार्यक्रम, पाठ्यक्रम, शामिल होने/ प्रवेश के पात्रता मापदंड ( एलिजिबिलिटी), आरक्षण, परीक्षा शुल्क, परीक्षा के एग्जाम सेंटर, पात्रता का राज्य कोड, अधिकतम आयु, न्यूनतम आयु आदि की विस्तृत जानकारी  NTA नीट 2019 के सूचना बुलेटिन में है जोकि अभ्यार्थी डाउनलोड कर पढ़ सकते हैं|

इस बार होने वाले नीट 2019 कराने का जिम्मा राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने लिया है| मानव संसाधन मंत्रालय एवं MCI ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा 2019 को पैन और पेपर के द्वारा दिया जाएगा|

नीट 2019 ताजा खबरें

9 Sept 2018: गीतांजलि मेडिकल कॉलेज ने एक भी सीट खाली नहीं बताई, फिर दे दिए 48 एडमिशन

MCIऔर चिकित्सा शिक्षा विभाग मिलकर भी मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन की गड़बड़ी नहीं रोक पा रहे हैं। मामला Geetanjali Medical College की ओर से काउंसलिंग के बाद एक भी सीट खाली नहीं बताकर 48 स्टूडेंट्स को Payment Seat पर एडमिशन देने का है। इस मामले की जांच कर SMS मेडिकल कॉलेज ने रिपोर्ट सरकार को सौंपी है। अब मेडिकल कौंसिल ऑफ इंडिया को शिकायत की जाएगी। एमसीआई ने इस कॉलेज को 100 सीटें दी हुई हैं। अगर एडमिशन में गड़बड़ी मिली तो सीटें खारिज की जा सकती हैं।

दरअसल, 16 अगस्त तक SMS Medical Colleges, Jaipur में NEET 2018 की काउंसलिंग चली थी। सभी निजी मेडिकल कॉलेजों में भी सीट आवंटित की गई। अंत में सभी से पूछा गया कि क्या उनके यहां सीट बची है, ताकि अभ्यर्थियों को सीट दी जा सकें। सभी के साथ गीतांजलि मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने भी बताया कि कोई सीट नहीं बची है। लेकिन काउंसलिंग खत्म होने के महज चार दिन बाद ही 48 स्टूडेंट को पेमेंट सीट पर एडमिशन दे दिए।

एसएमएस मेडिकल कॉलेज को मामले का पता चला तो कॉलेज प्रबंधन से जवाब मांगा गया। जबाव से असंतुष्ट एसएमएस मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने मामले की जांच की और रिपोर्ट सरकार को सौंप दी।

एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. यूएस अग्रवाल ने कहा कि-गीतांजलि मेडिकल कॉलेज मामले की रिपोर्ट सरकार को सौंप दी है। इससे ज्यादा बताने से उन्होंने इनकार कर दिया।

अभ्यर्थी नहीं आए तो दूसरों को सीटें अलॉट की : कॉलेज प्रबंधन

हमने काउंसलिंग के दौरान ही सभी सीटें अलॉट कर दी थी। बाद में अभ्यर्थी आए ही नहीं। उनकी जगह दूसरे अभ्यर्थियों को मेरिट लिस्ट के आधार कॉल किया और फिर एडमिशन दिया है। –भूपेन्द्र मंडालिया, रजिस्ट्रार, गीतांजलि मेडिकल कॉलेज 

geetanjali medical college

6 Sept 2018Additional Biology subject & NIOS Candidates are eligible for admission in MBBS courses in any Indian and Foreign Medical Colleges.

5 Sept 2018: (FOR NEET 2018 Candidates) -Refund of security fee –  MBBS और BDS पाठ्यक्रम के सभी भाग लेने वाले उम्मीदवार / संस्थान / कॉलेज / विश्वविद्यालय परामर्श: 2018 को सूचित किया जाता है कि MCC/ DGHS के साथ सुरक्षा जमा की वापसी 30.09.2018 तक पूरी की जाएगी।

यह भी ध्यान दे सकते हैं कि रिजंड उम्मीदवार खाते में किया जाएगा जहां से एमसीसी / डीजीएचएस में प्रेषण किया गया है और उम्मीदवारों की निम्नलिखित पात्र श्रेणी में:

a) पंजीकृत उम्मीदवार जिन्होंने भुगतान सफलतापूर्वक और सीट को परामर्श के किसी भी दौर में आवंटित नहीं किया था।
b) पंजीकृत उम्मीदवार जिन्होंने सफलतापूर्वक भुगतान किया और परामर्श के दौरान आवंटित सीट में शामिल हो गए।

धनवापसी सीधे कॉलेजों के बजाय उम्मीदवारों को दी जाएगी। इसलिए, कॉलेजों को सलाह दी जाती है कि वे पाठ्यक्रम ट्यूशन शुल्क को तदनुसार समायोजित करें।
यूजी (एमबीबीएस और बीडीएस) पाठ्यक्रम के योग्य उम्मीदवारों को सुरक्षा जमा की वापसी 30.09.2018 तक की जाएगी। (Download Notice)

4 Sept 2018:  MBBS के एडमिशन में फर्जीवाड़ा, 5 छात्रों को नोटिस,  छात्रों ने गलत आय प्रमाण पत्र दे कर लिया एडमिशन

Haryana Medical University: हेल्थ यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस के एडमिशन को लेकर बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है| 5 छात्रों ने 600000 से अधिक वार्षिक आय होने के बाद भी फर्जी आय प्रमाण पत्र बनवा कर यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लिया| वही यूनिवर्सिटी के अधिकारियों ने भी बिना किसी जांच के फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर उनकी एडमिशन प्रक्रिया पूरी कर दी|

आरटीआई से मिली जानकारी से यह फर्जीवाड़ा सामने आया है और इसकी शिकायत यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार को दी गई है| इसके बाद अधिकारियों ने छात्रों को नोटिस थमा दिए और उनसे आए को प्रमाणित कराने को कहा है| साथ ही पूरे मामले की जानकारी सरकार के पास भी भेजी जा चुकी है| उधर सोमवार को यूनिवर्सिटी में चल रही Mop-Up काउंसलिंग के दौरान कमेटी द्वारा फिजिकल हैंडीकैप श्रेणी में बची सीटों को एक्स सर्विसमैनफ्रीडम फाइटर में बदलने को लेकर काफी बवाल हुआ|

पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के तहत मेडिकल की पढ़ाई के लिए MBBS और BDS में दाखिले की प्रक्रिया चल रही है| जुलाई दौरान छात्र हाईकोर्ट चले गए और कोर्ट ने काउंसलिंग रद्द कर दी थी| इसके बाद अगस्त में दूसरी काउंसलिंग हेल्थ इन सुप्रीम कोर्ट का हवाला देते हुए रद्द कर दी थी| अब तीसरी बार काउंसलिंग प्रक्रिया चल रही थी| इसमें भी धांधली सामने आई है|

रोहतक निवासी जयप्रकाश की तरफ से आरटीआई के तहत मिली जानकारी में यह सामने आया कि 5 छात्रों ने काउंसलिंग के दौरान फर्जी आय प्रमाण पत्र दिखाकर एडमिशन ले लिया है| जयप्रकाश के मुताबिक सरकार का नियम है कि Rs 6,00,000 से कम वार्षिक आय वाले छात्रों को पहले एडमिशन दिया जाएगा| आरोपित 5 छात्रों ने इसी का फायदा उठाया| आरोप है कि छात्रों की परिवार की वार्षिक आय ₹6,00,000 है लेकिन फिर भी उन्होंने फर्जी प्रमाण पत्र बनवा कर आए कम दिखाई और इसी फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे दाखिला भी ले लिया है|

डॉ एचके अग्रवाल, रजिस्ट्रार, हेल्थ यूनिवर्सिटी रोहतक: आरोपित पांचों ही छात्रों को आय प्रमाण पत्र वेरिफिकेशन कराने को कहा है और इसके संबंध में सरकार को भी सूचना भेजी जाती है| अगर प्रमाण पत्र फर्जी पाए जाते हैं तो नियम अनुसार छात्रों का दाखिला रद्द किया जा सकता है| फिजिकल हैंडीकैप की सीटों को सरकार के नोटिफिकेशन के नियम अनुसार ही दूसरी श्रेणी में बदला गया है

mbbs admission 2018

1 सितंबर 2018:  राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA)  के द्वारा नीट परीक्षा 2019 के लिए नई वेबसाइट तैयार की जा रही है|इस वेबसाइट पर परीक्षार्थी अपना ऑनलाइन आवेदन पत्र, महत्वपूर्ण जानकारी, परीक्षा की शर्तें, नीट की लेटेस्ट न्यूज़, सूचना बुलेटिन एवं नीट सिलेबस/ पैटर्न यहां पर उपलब्ध होगा| इस वेबसाइट का नाम www.ntaneet.nic.in है| अभी तक यह वेबसाइट ऑनलाइन लोंस नहीं की गई है, लेकिन 20 अक्टूबर के बाद आप इस वेबसाइट को देख सकते हैं|

neet 2019 latest news in hindi

30 अगस्त 2018: भारत की सरकार ने मानव संसाधन मंत्रालय को कहा है कि जो भी अभ्यर्थी राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी के द्वारा JEE Main, NEET 2019, UGC-NET, CMAT, GPAT 2019 में शामिल हो रहे हैं उन्हें फ्री में कोचिंग क्लासेज दी जाए| हम आपको बता दें कि पहले से ही NTA, 3000 से ज्यादा प्रैक्टिस टेस्ट सेंटर लॉन्च कर चुका है|

NTA JEE, NEET फ्री कोचिंग क्लासेज जॉइन करने के लिए अभ्यार्थी को www.ntatpc.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा या फिर Google Android के स्मार्टफोन ऐप “NTA स्टूडेंट”  डाउनलोड/ इंस्टॉल कर आप राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी के फ्री कोचिंग क्लासेस का हिस्सा बन सकते हैं|

29 अगस्त 2018: इस बार  नीट को छोड़कर, राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी सभी एंट्रेंस एग्जाम कंप्यूटर के द्वारा आयोजित करवाएगी| इसके लिए NTA फ्री प्रैक्टिस टेस्ट का आयोजन करवा रही है| अभ्यार्थी इसके लिए ऑनलाइन आवेदन 1 सितंबर 2018 से कर सकते हैं| एवं अपने नजदीक 5 ऐसे स्कूल/ कॉलेज/ इंस्टीट्यूट को चुन सकते हैं| आप यहां जाकर ऑनलाइन मॉक टेस्ट फ्री में दे सकते हैं| इसके लिए आपको कोई भी शुल्क देना नहीं होगा| कृपया अधिक जानकारी के लिए ऑप्शन वेबसाइट www.ntatpc.डॉट.इन पर देख सकते हैं|

28 अगस्त 2018: इस बार अभ्यार्थी को आधार कार्ड नंबर डालना कंपलसरी नहीं होगा| अभ्यार्थी अपना कोई भी फोटो पहचान पत्र जैसे कि- राशन कार्ड, बैंक पासबुक, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर ID, एवं अन्य सरकारी दस्तावेज के द्वारा प्रदान कर सकते हैं|

21 अगस्त 2018: मानव संसाधन मंत्रालय नई दिल्ली के द्वारा प्रेस रिलीज में यह बताया गया है कि इस बार होने वाली राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (NEET) का आयोजन एक बार ही होगा जैसे कि CBSE के द्वारा किया जाता था| इससे पहले 7 जुलाई 2018 को कैबिनेट मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा था कि नीट की परीक्षा फरवरी और अप्रैल में ली जाएगी ( यानी साल में दो बार) लेकिन अब यह रूल चेंज कर दिया और परीक्षा ऑनलाइन ले ले कर ऑफलाइन ली जाएगी, परीक्षा की दिनांक 5 मई 2019 तक किया गया है|

नीट 2019: न्यू रूल्स/  नई जानकारियां

  1. परीक्षा में अभ्यार्थी कितनी बार भी बैठ सकता है (No. of NEET Attempts is removed).
  2. आधार कार्ड की संख्या ऑनलाइन फार्म में देना अनिवार्य नहीं है|
  3. आंध्र प्रदेश और तेलंगाना ने 15% ऑल इंडिया सीट कोटा में सम्मिलित का प्रस्ताव मान लिया है| वह भी अभ्यार्थी आंध्र प्रदेश और तेलंगाना प्रदेश के हैं बे अब 15% AIQ में बिना सेल्फ डिक्लेरेशन के  काउंसलिंग में बैठ सकते हैं|
  4. NIOS एवं स्टेट ओपन स्कूल are Eligible for NEET 2019
  5. प्राइवेट कैंडिडेट नीट 2019 के लिए एलिजिबल नहीं है|
  6. इस बात से परीक्षा में केवल हिंदी एवं इंग्लिश भाषा में परीक्षा पत्र  होगा| पिछली बार नीट परीक्षा 10 भाषा में परीक्षा पत्र थे| क्योंकि प्रिंटर के द्वारा दायर किए गए कोर्ट में केस के वजह से राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने यह तय किया है कि नीट 2019 का परीक्षा पत्र केवल इंग्लिश एवं हिंदी में ही होगा|
  7. NTA के द्वारा 3000 से अधिक टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर शुरू किए गए हैं जिस में अभ्यार्थी जाकर के ऑनलाइन मॉक टेस्ट/ कंप्यूटर टेस्ट दे सकते हैं|
  8. अगले साल मई 2019 से नीट परीक्षार्थियों के लिए खुशखबरी की खबर है- भारत सरकार के द्वारा NTA फ्री कोचिंग क्लासेस का आयोजन कराया जाएगा जिसमें सभी अभ्यर्थी बिना शुल्क के पढ़ सकते हैं,  पुराने पेपर हल करा सकते हैं, पुराने पेपर डिस्कस कर सकते हैं इत्यादि|
  9. परीक्षा की न्यूनतम एवं अधिकतम आयु सीमा पहले कि जैसे ही होगी इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है|
  10. नीट 2019 का नया सिलेबस एवं परीक्षा पैटर्न सीबीएसई नीट 2018 ऐसा ही होगा इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है|

Check Also

neet 2019 requirement

Be ready with following things – Required in NEET 2019 Registration

The National Informatics Center and NTA have registered official website of NEET 2019. According to …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *